banner

Betul

                             District and session court Betul independently founded in year 1969 and first District and Sessions Judge was Sh M.M.Jincywale.

                             District Court Betul Madhyapradesh is constructed in 1924-24, 1947-48 and 1948-49 two additional court room constructed.Year 2013 eight court room constructed in the campus. In civil court Multai  in 1907 court were running in the tahsil building after in 1990-91 seperate court building created. In civil court Bhainsdehi 1954-55 court is running but building created 1990-91, and civil court court amla court is running in other building and building is sanctioned in 2016-2017.

                             The Distrcit and Session Judges Betul were promoted as Justice of Hon'ble High court of Madhya Pradesh Sh. Y.D.Suryawanshi, Sh. S.D. Jha, Sh. S.J Surana, Sh S.K. Chawla. Sh D.K. Paliwal who was Civil Judge class-I directly posted at Justice of Hon'ble High Court of Madhya Pradesh.

अभिभाषक संघ के वर्ष 1940 से उपलब्ध अभिलेख अनुसार वर्ष 1904 से श्री रामप्रसाद अवस्थी,वर्ष 1908 से श्री कृष्णा महादेव धर्माधिकारी , वर्ष  1911 से श्री एल एस देशपांडे ,1913 से श्री एस पी पाटील , वर्ष  1914 से श्री भालेराव , वर्ष  1916 से श्री रामदत्त उपाध्याय , वर्ष  1927 से श्री हरसेवक खासकलम , वर्ष  1930 से श्री रामदयाल खण्डेलवाल , वर्ष  1932 से श्री एम पी धर्माधिकारी,वर्ष 1933 से श्री एल एस पचोली , 1953 से श्री आर के गर्ग ने वकालत आरंभ की जो वर्तमान में भी वकालत का व्यवसाय कर रहे है तथा अभिभाषक संघ के वरिष्ठतम अभिभाषक है।

                              1955 तक बैतूल का राजस्व जिला होशंगाबाद था ,तत्पशचात छिंदवाडा राजस्व जिले के अंर्तगत बैतूल को शामिल किया गया । सत्र प्रकरणों के निराकरण के लिए होशंगाबाद,छिंदवाडा से अपर जिला एवं सत्र न्यायालय बैतूल आते रहे। बैतूल में स्थायी अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश की पदस्थापना सन 1953 के लगभग हुर्इ ,उस समय श्री आर्इ एन सक्सेना पदस्थ थे।